BestHindiHelp.Com

Best Hindi Blog Website for Blogging, SEO, Internet, Technology, Tech Tips, Job Exam Preparation, Exam Paper, Career, Job & More info

Technology

एंटीवायरस (AntiVirus) क्या है इसके प्रकार और यह कैसे काम करता है

What is Antivirus in Hindi

एंटीवायरस क्या होता है समझाइए

आजकल कंप्यूटर और इंटरनेट तकनीकी साधनों का अपनी ज़िन्दगी में महत्वपूर्ण स्थान है, इसलिए हमारे सच्चे और ऑनलाइन जीवन को सुरक्षित रखने की आवश्यकता बढ़ गई है। साथ ही कई प्रकार के कंप्यूटर वायरस और मैलवेयर्स की बढ़ती संख्या ने साइबर सुरक्षा को बहुत मुश्किल बना दिया है। यही कारण है कि एंटीवायरस (antivirus) एक महत्वपूर्ण उपाय है जो उपयोगकर्ताओं को कंप्यूटर और इंटरनेट से जुड़े खतरों से बचाता है।

Antivirus भी Spyware और Adware से PC को सुरक्षित रखता है। इन सभी कार्यक्रमों को आपके सिस्टम से पता लगाकर हटाते हैं। विभिन्न घटनाएं आपके फ़ाइलों को छोटा कर सकती हैं या फ़ाइलों को गायब कर सकती हैं, जो आपके कंप्यूटर को धीमा कर सकती हैं।

“एंटीवायरस वह सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम होता है, जो कंप्यूटर में गुप्त सभी वायरस प्रोग्राम को डिलीट करने का कार्य करता है।”Anti-Malware सॉफ्टवेयर भी एंटीवायरस के नाम से जाना जाता है। क्योंकि यह वायरस, स्पाइवेयर और अन्य घातक कार्यक्रमों का पता लगाने और उन्हें डिलीट करने की क्षमता रखता है

Antivirus मुख्यतः सिस्टम में छिपे हुए वायरस का पता लगाने तथा उन्हें नष्ट करने के लिए बनाए गए हैं। वर्तमान में अत्याधुनिक तकनीक के एंटीवायरस Adware, Spyware, Ransomware, Keyloggers, Backdoors, Trojan Horse और अन्य दुर्भाग्यपूर्ण प्रोग्रामों से उपयोगकर्ता के डेटा को सुरक्षित रखते हैं।

साथ ही आपको यहाँ जानना चाहिए वर्तमान में, सोशल इंजीनियरिंग, इंटरनेट बैंकिंग, फिशिंग आदि से होने वाले ऑनलाइन हमलों से उपयोगकर्ता को बचाने के लिए एंटीवायरस का उपयोग कई स्थानों पर किया जा रहा है, न सिर्फ कंप्यूटर सिस्टम में।

एंटीवायरस एक प्रोग्राम है जो कंप्यूटर को वायरस, मैलवेयर, ट्रोजन्स और अन्य कंप्यूटर विषाणुओं से बचाता है। यह घातक सॉफ़्टवेयरों और अनधिकृत हस्तक्षेप से बचने के लिए कई तकनीकी और सुरक्षा प्रणालियों का उपयोग करता है। एंटीवायरस का मुख्य लक्ष्य उपयोगकर्ताओं को अनचाहे साइबर हमलों से बचाना है और इन्हें इंटरनेट सुरक्षित रखना है।

साथ ही एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर नए और अपडेट विषाणु डेटाबेस के साथ आता है, जिससे वह नए और विकसित खतरों को पहचान और उनसे बचाव कर सकता है। इस तरह, एंटीवायरस सुरक्षा हमें स्वतंत्र रूप से सुरक्षित रखने और ऑनलाइन अनुभव को सुरक्षित और आत्म-सुरक्षित रखने में मदद करता है।

आइए सुरक्षित डिजिटल यात्रा की शुरुआत करें और एंटीवायरस (AntiVirus) क्या है और यह कैसे हमारे डिवाइस्स को सुरक्षित रखता है।

एंटीवायरस क्या है

Antivirus in Hindi

Antivirus in Hindiएंटीवायरस (antivirus) एक सॉफ़्टवेयर है जो कंप्यूटर और अन्य इंटरनेट पर चलने वाले उपकरणों को वायरस, मैलवेयर, ट्रोजन हॉर्स, स्पायवेयर और अन्य खतरों से बचाता है। यह वायरस और अन्य कुप्रबंधनों को पहचानने और हटाने के लिए विशिष्ट सत्रों, या डेटाबेस, का उपयोग करता है, जो सबसे नवीनतम और अपडेट हैं, ताकि यह नए संस्करणों के घातक सॉफ़्टवेयर को पहचान सके।

यह एक महत्वपूर्ण कम्प्यूटर सुरक्षा उपकरण है जो बैंकिंग, व्यक्तिगत या संगठनिक सूची और अन्य ऑनलाइन गतिविधियों को सुरक्षित रखने में मदद करता है। एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर कंप्यूटर प्रणाली को अनधिकृत और मुश्किल से बचाता है, जिससे उपयोगकर्ता अपना डेटा सुरक्षित रख सकते हैं।

एंटीवायरस कैसे काम करता है

Antivirus Work in Hindi

एंटीवायरस (antivirus) एक सॉफ़्टवेयर है जो वायरस और अन्य खतरनाक साइबर संक्रमणों से कंप्यूटर और इंटरनेट उपकरणों को सुरक्षित रखता है। यह विभिन्न तरीकों से कार्य करता है:

वायरस सिग्नेचर्स (Virus Signatures)

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर वायरसों को पहचानने में मदद करने के लिए विशिष्ट साइबर सिग्नेचर्स का उपयोग करता है। एंटीवायरस एक प्रोग्राम या फ़ाइल को स्कैन करते समय उसकी साइबर सिग्नेचर्स को डेटाबेस में जोड़ता है। एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर उस फ़ाइल को क्वारंटीन में रख सकता है या उसे नष्ट कर सकता है अगर सिग्नेचर मिलता है।

बहुतरतम सत्रीकरण (Heuristic Analysis)

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर नए और अज्ञात साइबर संक्रमणों को गणना करने के लिए सॉफ़्टवेयर विशेषज्ञों द्वारा बनाए गए नियमों का उपयोग करता है। उपयोगकर्ता सिस्टम को सुरक्षित रखने के लिए यह नए साइबर संक्रमणों को खोजता है।

चालू प्रोग्रामों की मॉनिटरिंग (Behavioral Monitoring)

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर चालू कार्यक्रमों का व्यवहार ट्रैक करते हैं। यह यह सुनिश्चित करने के लिए होता है कि कोई शैतानी गतिविधि या साइबर हमले नहीं हो रहे हैं।

सिस्टम स्कैनिंग (System Scanning)

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर नियमित रूप से सिस्टम प्रोग्राम्स और फ़ाइल्स को स्कैन करता है ताकि कोई नया वायरस पता लगा सके।

रियल-टाइम प्रोटेक्शन (Real-time Protection)

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर रियल-टाइम प्रोटेक्शन प्रदान करते हैं, अर्थात् साइबर खतरों को सिस्टम में प्रवेश करते ही पहचाना जाता है और उन्हें रोकने का प्रयास किया जाता है।

ये तरीके मिलकर उपयोगकर्ताओं को साइबर खतरों से बचाने में मदद करते हैं और एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर को सुरक्षित रखते हैं।

एंटीवायरस का इतिहास

History of Antivirus in Hindi

इंटरनेट और कंप्यूटर सुरक्षा के विकास से एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का इतिहास जुड़ा हुआ है। एंटीवायरस के इतिहास में कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं निम्नलिखित हैं:

1980s: प्रारंभिक दशकों में शुरुआत

प्रारंभिक दशक में शुरुआत: कंप्यूटर वायरस की पहली रिपोर्ट लगभग 1980 के दशक में आई थीं। “Brain” नामक वायरस, 1986 में बनाया गया था, फ्लॉपी डिस्क्स को संक्रमित करता था।

1990s: एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का पहला उपयोग

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का पहला उपयोग इस दशक में हुआ था। 1990 में Symantec ने Norton Antivirus लॉन्च किया, जो बाद में एक बड़ा एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर बन गया।

2000s: साइबर खतरों का विकास

इस दशक में साइबर खतरों में वृद्धि हुई, साथ ही एंटीवायरस सॉफ़्टवेयरों में सुधार हुआ। नए तकनीकी उत्पादों का प्रदर्शन करने वाली बहुत सी कंपनियां बनीं।

2010s: नई तकनीकियों का उपयोग

नई तकनीकियों का उपयोग: इस दशक में एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर उत्पादों में नई तकनीकें शामिल हुईं। अब कई कंपनियां साइबर हमलों को तेज और सटीक ढंग से पता लगा रही हैं।

विकास के साथ बदलता हुआ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर

आजकल सिस्टम को वायरस और अन्य साइबर हमलों से बचाने के लिए बनाया गया है. मैलवेयर, स्पाइवेयर, रैंसमवेयर और अन्य मॉलीशस सॉफ़्टवेयर इन साइबर हमलों में शामिल हैं।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर ने सत्रीकरण और सुरक्षा में सुधार के साथ साइबर खतरों को हराया है और एक महत्वपूर्ण कंप्यूटर सुरक्षा टूल है।

एंटीवायरस के प्रकार

Type of Antivirus in Hindi

Type of Antivirus in Hindiएंटीवायरस (antivirus) सॉफ़्टवेयर कई प्रकार के हो सकते हैं, जो विभिन्न सुरक्षा चुनौतियों को पूरा करने के लिए बनाए गए हैं। यहां कुछ आम एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर प्रकार हैं:

सिग्नेचर-आधारित एंटीवायरस

इस तरह का एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर संक्रमित फ़ाइलों को पहचानने के लिए वायरस की सिग्नेचर्स या विशिष्ट साइबर पैटर्न्स का उपयोग करता है। प्रचलित वायरसों को पहचानने के लिए इसका उपयोग किया जाता है। क्योंकि यह सिग्नेचर्स पर निर्भर है, इससे नए और अज्ञात वायरसों को पहचानने में कमी हो सकती है।

बहुतरतम सत्रीकरण (Heuristic-आधारित एंटीवायरस)

यह नियमों और विशेषज्ञों द्वारा बनाए गए स्पष्ट निर्देशों का उपयोग करके नए और अज्ञात साइबर संक्रमणों को पहचानने की कोशिश करता है। यह अज्ञात संक्रमणों को पहचानने में मदद करता है, लेकिन कभी-कभी यह गलती कर सकता है और साधारित प्रोग्रामों को संक्रमित मान सकता है।

बहुतरतम सत्रीकरण (Behavioral-आधारित एंटीवायरस)

इस तरह का एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर चालू प्रोग्रामों का व्यवहार देखता है और अनोमलियों को पहचानने का प्रयास करता है। यह नए और अज्ञात संक्रमणों को पहचानने में मदद करता है क्योंकि यह विशिष्ट साइबर गतिविधियों को पहचान सकता है जो साधारित पैटर्न्स से अलग हैं।

रियल-टाइम प्रोटेक्शन (Real-time Protection)

इस तरह का एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर प्रवेश करते ही संक्रमण को पहचानता और रोकता है। यह उपयोगकर्ता की सुरक्षा को बढ़ाता है क्योंकि यह संक्रमण को जल्दी पकड़ने में मदद करता है।

इंटरनेट सुरक्षा स्वेयर (Internet Security Suites)

ये स्वेयर पैकेज एंटीवायरस सुरक्षा के अलावा फ़ायरवॉल, अंटीस्पायवेर, वेब सुरक्षा और अन्य सुरक्षा प्रदान करते हैं।

इन प्रकार के एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का उपयोग करके उपयोगकर्ता अपने सिस्टम को सुरक्षित रख सकते हैं और साइबर संक्रमणों से बच सकते हैं।

एंटीवायरस की विशेषताएं

Feature of Antivirus in Hindi

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर में कई गुण हैं जो उपयोगकर्ताओं को सुरक्षित रखते हैं। इनमें से कुछ प्रमुख गुण हैं:

वायरस सिग्नेचर्स

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर वायरस सिग्नेचर्स का उपयोग करके साइबर संक्रमणों को पहचानता है। ये संकेत विशिष्ट साइबर पैटर्न्स हैं जो प्रसिद्ध वायरसों को पहचानने में मदद करते हैं।

बहुतरतम सत्रीकरण (Heuristic Analysis)

यह एक नए और अज्ञात संक्रमण को पहचानने के लिए नियमों और विशेषज्ञों द्वारा तैयार किए गए विशिष्ट निर्देशों का उपयोग करता है।

चालू प्रोग्रामों की मॉनिटरिंग (Behavioral Monitoring)

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर चालू प्रोग्रामों का व्यवहार देखता है ताकि वह वायरस को पहचान सके जो साइबर संक्रमण का संकेत हो सकते हैं।

रियल-टाइम प्रोटेक्शन (Real-time Protection)

इस विशेषता से एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर संक्रमण को तुरंत पहचानता है और इसे सुरक्षित रखने के लिए क्रियान्वित करता है।

रिपोर्टिंग और लॉगिंग

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर संक्रमणों की रिपोर्ट और लॉग उपयोगकर्ताओं को दे सकता है, जिससे वे विशेषज्ञों को संक्रमणों को पहचानने और उन्हें दूर करने में मदद कर सकते हैं।

फ़ायरवॉल सहित अन्य सुरक्षा सुविधाएँ

विभिन्न साइबर खतरों से उपयोगकर्ता को सुरक्षित रखने के लिए कई एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर पैकेज फ़ायरवॉल, अंटीस्पायवेर और अन्य सुरक्षा उपकरणों को शामिल करते हैं।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर की इन विशेषताओं का उपयोग करने से सुरक्षित और स्वच्छ कंप्यूटिंग अनुभव सुनिश्चित होता है।

एंटीवायरस के फायदे

Advantage of Antivirus in Hindi

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का उपयोग करने के कई लाभ हैं, जो उपयोगकर्ताओं को उनके कंप्यूटरों और इंटरनेट डिवाइसेस को सुरक्षित रखने में मदद करते हैं:

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का मुख्य लक्ष्य वायरसों को पहचानना और हटाना है। यह कंप्यूटर संक्रमणों से उपयोगकर्ताओं को सुरक्षित रखने में मदद करता है और संक्रमणों को डेटा तक पहुंचने से बचाता है।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर फिशिंग अटैक्स और अन्य मैलवेयरों से सुरक्षित रहता है क्योंकि यह मैलवेयरों को पहचानने और नष्ट करने में सक्षम है।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर उपयोगकर्ताओं को अनवांछित और मॉलीशस सॉफ़्टवेयरों से बचाता है जो ऑनलाइन सत्रीकरण के लिए अनुकूल नहीं हैं।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर वेब ब्राउज़िंग को सुरक्षित रखता है, खासकर उपयोगकर्ताओं को जाने-माने फिशिंग वेबसाइट्स और धोखाधड़ी वेबसाइट्स से बचाने में।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर सिस्टम प्रदर्शन को सुरक्षित रखकर इसकी स्थिति में सुधार कर सकता है, जिससे कंप्यूटर की गति बनी रहती है और संबंधित उपयोगकर्ता का अनुभव बेहतर होता है।

नए संक्रमणों और सुरक्षा खतरों से बचने के लिए अधिकांश एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर ऑटोमेटेड अद्यतन देते हैं।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर उपयोगकर्ताओं के डेटा को सुरक्षित रखने में मदद करता है, खासकर विशिष्ट सॉफ़्टवेयरों से होने वाले रैंसमवेयर हमलों से बचाव करने में।

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर आपके डेटा को क्लाउड में सुरक्षित रखने में मदद करते हैं, जिससे यह कई डिवाइसेस पर सुरक्षित रह सकता है।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का उपयोग करने के मुख्य लाभ हैं, जो उपयोगकर्ताओं को सुरक्षित रखने में मदद करते हैं और साइबर सुरक्षा को बढ़ावा देते हैं।

एंटीवायरस के नुकसान

Disadvantage of Antivirus in Hindi

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर बहुत फायदेमंद और सुरक्षा में मदद करता है, लेकिन वह कई दुर्लभ नुकसानों का भी कारण हो सकता है। एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर नकारात्मक प्रभाव डालने वाले कुछ परिस्थितियां निम्नलिखित हैं:

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर बहुत भारी होते हैं, जो कंप्यूटर की गति को कम कर सकते हैं। यह विशेषकर कम तकनीक वाले कंप्यूटरों पर दिखाई दे सकता है।

कभी-कभी एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर और अन्य सुरक्षा सॉफ़्टवेयर एक दूसरे के साथ संघर्ष कर सकते हैं, जो तकनीकी समस्याओं का कारण बन सकता है।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर कभी-कभी वास्तविक फ़ाइलों को भ्रष्ट रूप से संक्रमित मान सकता है और उन्हें हटा सकता है, जिससे उपयोगकर्ताओं को समस्या हो सकती है।

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर अक्सर बहुतरतम सत्रीकरण की गलती कर सकते हैं और यह अपातकालीन रूप से साधारित और निर्दिष्ट निर्देशों में इनडिकेट कर सकते हैं, जिससे सिस्टम प्रदर्शन पर असर हो सकता है।

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर प्रणाली के नकारात्मक प्रभावों को खोजते हैं, जैसे बैटरी खपत, इंटरनेट गति और स्थानीय नेटवर्क संचार में बाधा।

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर में लाइसेंस और योग्यता से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं, जिससे उपयोगकर्ता निराश हो सकते हैं।

नए और अज्ञात संक्रमणों को पहचानना कठिन हो सकता है क्योंकि कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर में सत्रीकरण की कमी हो सकती है।

कुछ एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर उपयोगकर्ता के डिवाइस, खासकर पुराने हार्डवेयर, को कमजोर कर सकते हैं।

यह सभी नुकसान हो सकते हैं, लेकिन आम तौर पर, एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर का उपयोग सुरक्षित और सुरक्षित रखना महत्वपूर्ण है। सॉफ़्टवेयर की क्षमता को नियमित रूप से चेक करने के अलावा, उपयोगकर्ताओं को अपडेट रखने का भी ध्यान रखना चाहिए।

एंटीवायरस सॉफ्टवेयर की लिस्ट

Antivirus Software List In Hindi

यहां कुछ आम एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर सूची है। कृपया ध्यान दें कि सॉफ़्टवेयर की स्थिति और क्षमता में बदलाव हो सकते हैं, इसलिए सबसे नवीनतम जानकारी के लिए उत्पादक की वेबसाइट देखें:

माइक्रोसॉफ्ट डिफेंडर

माइक्रोसॉफ्ट ने इसे बनाया है और यह विंडोज 10 के साथ आता है।

एवास्ट फ्री एंटीवायरस

यह एक लोकप्रिय नि:शुल्क विकल्प है जो वायरस हटाने और अधिकतम सत्रीकरण की सुविधाएं प्रदान करता है।

एवीरा फ्री एंटीवायरस

इसमें वायरस, मैलवेयर और स्पायवेयर की पहचान और हटाने की क्षमता है, साथ ही अधिकतम सत्रीकरण भी देता है।

केस्परस्की एंटीवायरस

एक महत्वपूर्ण सुरक्षा सॉफ़्टवेयर, यह कई सुरक्षा प्रदान करता है।

नॉर्टन एंटीवायरस

सिमैंटेक के द्वारा बनाया गया, नॉर्टन एंटीवायरस वायरसों, मैलवेयर, और अन्य सुरक्षा खतरों के खिलाफ सुरक्षित करने के लिए जाना जाता है।

बिटडेफेंडर फ्री एंटीवायरस

इसमें सर्वश्रेष्ठ सत्रीकरण, मैलवेयर निरोध और इंटरनेट सुरक्षा की सुविधाएं शामिल हैं।

आवास्ट एंटीवायरस

इसमें वास्तविक समय में वायरस, स्पायवेर और मैलवेयर के खिलाफ सत्रीकरण की सुविधाएं हैं।

क्लामएव एंटीवायरस

यह एक पूरी तरह से फ़ीचर्ड एंटीवायरस है जो वायरस, स्पायवेर, ट्रोजन्स, मैलवेयर और अन्य सुरक्षा खतरों से बचाता है।

वेबरूट एंटीवायरस

यह एक अन्य लोकप्रिय एंटीवायरस है जो वायरस और मैलवेयर सत्रीकरण जैसे कई सुरक्षा प्रदान करता है।

कैसपर्स्की इंटरनेट सिक्यूरिटी

यह एक पूरी तरह से सिक्यूरिटी है जो वायरस, स्पायवेर, मैलवेयर, फिशिंग और अन्य संक्रमणों से बचाता है।

ये सॉफ़्टवेयर विभिन्न सुरक्षा सुविधाएं प्रदान करते हैं, और उपयोगकर्ताओं को ऑनलाइन सुरक्षा के खतरों से बचाने में मदद कर सकते हैं।

निष्कर्ष (Conclusion):

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर एक महत्वपूर्ण सुरक्षा उपाय है जो डिवाइसेस को वायरस, मैलवेयर, स्पायवेर, ट्रोजन्स और अन्य सुरक्षा खतरों से बचाता है। यह बीमारियों को पहचानने और हटाने की क्षमता से लेकर वायरसों को सत्रीकरण करने तक कई सुरक्षा सुविधाएं प्रदान करता है। यह ऑनलाइन हमलों से बचाता है और उपयोगकर्ताओं को जब वे इंटरनेट पर ब्राउज़ करते हैं, फ़ाइल डाउनलोड करते हैं, और ईमेल संदेश भेजते हैं, तो संगीत संग्रह सुरक्षित रहता है।

एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर को अपडेट रखना अनिवार्य है क्योंकि यह सिस्टम सुरक्षा में अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसका उपयोग करने से उपयोगकर्ताएँ अपने डिवाइसेस को सुरक्षित रख सकते हैं और ऑनलाइन गतिविधियों का आनंद ले सकते हैं बिना किसी सुरक्षा संकट की चिंता किए। हमारे डिजिटल जीवन को सुरक्षित रखने के लिए एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर आज की दुनिया में एक अनिवार्य और अत्यंत आवश्यक उपाय है।

Share करे

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *